Rajasthan Politics: ‘जनता से जुड़ी कोई भी योजना बंद नहीं होगी’, मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा का बड़ा एलान

Bhajan Lal Sharma: सीएम भजनलाल शर्मा ने कहा कि प्रदेश में महिलाओं पर अत्याचार सहन नहीं किया जाएगा. इसके लिए अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए गए हैं. ना खाऊंगा और ना खाने दूंगा की नीति पर काम होगा.

राजस्थान के मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा ने आज बड़ा एलान किया है. जनता को विश्वास दिलाते हुए कहा कि अब राज बदल गया. प्रदेश में सुशासन आ गया.बीजेपी सरकार के राज में जनता से जुड़ी हुई कोई भी योजनाएं बंद नहीं की जाएगी बल्कि जनता की सेवाओं में जन सुविधाओं का विस्तार किया जाएगा. सरकार 100 दिन की कार्य योजना पर कार्य कर रही है. सरकार बीजेपी के संकल्प पत्र में शामिल सभी वादों को पूरा करेगी. सरकार ने आयुष्मान योजना में 5 लाख की सीमा को बढ़ाकर 10 लाख तक किया.

बता दें कि इससे पहले राज्य के पूर्व सीएम अशोक गहलोत ने ट्वीट कर कहा था  ”वर्तमान सरकार को हमारी सरकार की योजनाओं को लेकर भी स्थिति स्पष्ट करनी चाहिए जिससे जनता को परेशानी ना हो एवं कोई नई व्यवस्था लागू होने तक पूर्ववत व्यवस्था चालू रखनी चाहिए.”

इसके बाद अब प्रदेश में इस योजना के तहत खर्च राशि 25 लाख रुपए तक की करने पर कार्य किया जा रहा है. बीजेपी सरकार के राज में नि:शुल्क मिलने वाली दवाइयां बंद नहीं की जाएगी, बल्कि गंभीर बीमारियों में उपयोगी दवाइयों को भी नि:शुल्क योजना के तहत मरीजों को उपलब्ध करवाने की व्यवस्था की जाएगी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में राजस्थान सरकार सबका साथ सबका विकास योजना पर कार्य करेगी. 

महिलाओं पर अत्याचार सहन नहीं किया जाएगा

प्रदेश में महिलाओं पर अत्याचार सहन नहीं किया जाएगा. इसके लिए अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए गए है. वहीं भ्रष्टाचार पर लगाम लगाने के लिए अधिकारियों को पाबंद कर दिया गया. इतना ही नहीं, भ्रष्टाचारियों और उनकी सिफारिश करने वालों को भी नहीं बख्सा जाएगा. प्रदेश में प्रधानमंत्री मोदी की जीरो टोलरेंस नीति के तहत कार्य किए जाएंगे. ना खाऊंगा और ना खाने दूंगा की नीति पर काम होगा अगर किसी को भ्रष्टाचार करते पकड़ा गया तो उसके खिलाफ कार्रवाई भी होगी और वसूली भी की जाएगी.

एसएमएस अस्पताल का निरीक्षण 

सीएम भजनलाल शर्मा ने सुशासन दिवस कार्यक्रम से पूर्व एसएमएस अस्पताल का औचक निरीक्षण किया. इस दौरान अस्पताल अधीक्षक को स्वास्थ्य सेवाओं का विस्तार करने के निर्देश दिए. वहीं मरीजों के साथ वार्ता कर उनकी समस्याओं का शीघ्र समाधान करने के निर्देश दिए. सीएम ने कहा कि अब राज बदल गया है. ये राज जनता से चलने वाला है और आफिस में बैठकर काम चलने वाला नहीं है. एसएमएस अस्पताल की पहचान देश विदेश में है. ऐसे में इस पहचान को बनाए रखने के साथ ही आगे बढ़ाने का काम करना होगा.