क्या है एक जिला एक उत्पाद योजना? लोगों को कैसे होगा इससे फायदा?

एक जिला, एक उत्पाद योजना

जिला एक उत्पाद योजना सरकार की ओर से चलाई गई एक स्कीम है जिसका उद्देश्य देशभर में संतुलित क्षेत्रीय विकास को प्रोत्साहित करके लोगों को आत्मनिर्भर बनाना है। इस योजना के अंतर्गत, प्रत्येक जिले को एक अद्वितीय उत्पाद का चयन करने, उसे ब्रांडिंग और प्रचारित करने का कार्य किया जाता है, जिससे देश में विभिन्न उत्पादों की विविधता को प्रमोट किया जा सकता है, जिसमें हथकरघा और हस्तशिल्प सहित विभिन्न क्षेत्र शामिल हैं।

अद्वितीय उत्पाद का चयन

इस जिला एक उत्पाद योजना के अंतर्गत, एक जिले का एक विशेष उत्पाद चयनित होता है और उसे विकसित करने के लिए निर्दिष्ट कदम उठाए जाते हैं। इससे लोगों को नए रोजगार के अवसर मिलते हैं और स्थानीय उत्पादों को बढ़ावा मिलता है। यह योजना देशव्यापी विकास को समर्थन करने के साथ-साथ, स्थानीय स्तर पर भी आर्थिक स्थिति को सुधारने का प्रयास करती है।

निवेश प्रस्ताव मिले

बिहार, मध्य प्रदेश, राजस्थान और उत्तर प्रदेश को कभी आर्थिक रूप से कमजोर होने के कारण ‘बीमारू’ राज्य कहा जाता था. मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश देश की वृद्धि के इंजन के रूप में उभर रहा है. उन्होंने कहा कि फरवरी में आयोजित उत्तर प्रदेश निवेशक सम्मेलन के दौरान 38 लाख करोड़ रुपये से अधिक के निवेश प्रस्ताव प्राप्त हुए थे. इसके अलावा, नए भारत के नए उत्तर प्रदेश के ढांचागत विकास के लिए भी कई कार्यों को प्रोत्साहित किया जा रहा है।